सफाई संदेश बना महिलाओं के लिए कमाई का साधन

देश के एक शहर में महिलाओं को अनूठा रोजगार मिला.ये महिलाएं अपने ही शहर के वार्डों में सफाई का संदेश देती हैं. शहरवासियों को जागरूक करती हैं. अपने वार्डों को साफ रखने की इस पहल के बदले इन महिलाओं को पारिश्रमिक मिल रहा.

New Update
स्वच्छता का संदेश बना कमाई का साधन

SHG की महिलाएं घर घर जाकर परिवारों को जागरूक करते हुए (Image : Ravivar Vichar)

MP के Burhanpur में  Self Help Group की महिलाओं को खास रोजगार से जोड़ा गया.इस पहल से जहां नगर निगम सीमा में शहर की सफाई हो रही वहीं समूह से जुड़ी महिलाओं की कमाई भी शुरू हो गई. लगभग 5 घंटे ये महिलाएं शहर की सफाई व्यवस्था में सुबह से जुट जाती हैं. 

SHG 40 महिलाओं के हाथों में 48 वार्ड की कमान

बुरहानपुर नगर निगम से जुड़ीं आजीविका मिशन और  SHG की 40 महिलाओं को शहर की कमान दे गई. वैभव लक्ष्मी स्वयं सहायता समूह की श्वेता गुप्ता कहती है-"हमें गर्व है कि शहर की सफाई व्यवस्था में हम अपना सहयोग दे रहे.साथ ही हमें रोजगार का अवसर भी मिला. महाजन पेठ और शिकारपुरा इलाके में हम सफाई का संदेश देते हैं.इसमें हम लगातार सफल हुए.सिलाई का काम कई बार नहीं चलने से आर्थिक परेशानी आती थी.इस सफाई संदेश काम से हमारी अलग से इनकम होने लगी."

B'PUR CLEAN 600

वैभव लक्ष्मी SHG सदस्य वार्ड में समझाते हुए (Image : Ravivar Vichar)

इस काम के बदले समूह की महिलाओं को प्रतिदिन 100 रुपए के हिसाब से भुगतान किया जाता. खास बात यह है कि हर वार्ड में जाने वाले कचरा वाहन में ही लोग अब कचरा डालने लगे. यह आदत बना ली. पहले शहरवासी कहीं भी कचरा फेंक देते थे.

शहर के ही महक स्वयं सहायता समूह की सदस्य महिलाएं कहती हैं-"पहले वार्डवासियों की कचरा वाहन में कचरा डालने की आदत नहीं थी.लगातार समझाइश और जागरूक होने पर शहरवासी गीला कचरा और सूखा कचरा तक अलग अलग कर के वाहन में डालते हैं. शहर सफाई से बीमारियां फैलने की आशंका कम हो गई.हमारी कमाई भी लग से हो रही."  

नल-जल योजना से सुर्ख़ियों में आया बुरहानपुर 

पूरे देश में MP का ऐतिहासिक शहर बुरहानपुर उस वक़्त सुर्ख़ियों में आया जब  नल-जल योजना के तहत देश में पहला स्थान बनाया. यहां पदस्थ कलेक्टर DM Bhavya Mittal को PM Narendra Modi ने सम्मानित किया था.इसके अलावा भी शहर को बेहतर बनाने में योगदान के लिए कलेक्टर मित्तल को कई सम्मान मिल चुके हैं.

B'PUR SURVEY 500 

महक SHG की सदस्य सफाई का महत्व और जागरूक करते हुए (Image : Ravivar Vichar)

सफाई व्यवस्था को लेकर नगर निगम Assistant Commissioner Jyoti Sunariya बताती हैं-"हमें ख़ुशी है कि शहर की  NULM से जुड़ीं महिलाओं को रोजगार मिला.महिलाएं प्रतिदिन वार्डस में सफाई संदेश देकर कचरा वाहन में ही कचरा डालने के लिए प्रेरित करती हैं.और शहरवासियों ने इसकी आदत बना ली.हम इस व्यवस्था को और बढ़ाएंगे."

शहरवासियों ने कहा कि शहर के सफाई व्यवस्था में कचरा वाहन हर वार्डस में पहुंच रहे.

Burhanpur DM IAS Bhavya Mittal कहती हैं-"शहर में सफाई के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ी है. SHG की महिलाएं रोजगार के साथ शहर में अवेयरनेस का काम कर रहीं. इस व्यवस्था की निगम द्वारा मॉनिटरिंग की जा रही." 

SHG self help group PM Narendra Modi