महाराष्ट्र ने शुरू करी Pink Auto Rickshaw की पहल

Pink Rickshaw नाम से ही ये Initiative है महिलाओं के लिए है, उनकी सुरक्षा और आत्मनिर्भर बनाने की एक अनूठी सोच के साथ लेने जा रहीं है महारष्ट्र की सरकार. इस आधुनिक उद्देश्य से सरकार महिलाओ के Employment के लिए नए रास्ते खोल रही है.

author-image
भूमिका जैन
एडिट
New Update
Pink Auto rickshaw  के माधयम से महिलायें होंगी सशक्त

Image- Ravivar Vichar

Pink colour आज महिलाओं  को दर्शाने के लिए उपयोग मे लिया जाता है. कहते है की ये महिलाओ के पसंदीदा रंगों मे से एक है. इसी बात को दिमाग मे रखते हुए Maharashtra की सरकार ने पिंक ऑटो रिक्शा की शुरुआत करी.

पहल हैं आज pink ऑटो रिक्शा की

नाम से ही ये Initiative महिलाओं के लिए है, उनकी सुरक्षा और आत्मनिर्भर बनाने की एक अनूठी सोच के साथ लेने जा रहीं है महारष्ट्र की सरकार. इस आधुनिक उद्देश्य से सरकार महिलाओं के Employment के लिए नए रास्ते खोल रही है. इस उम्मीद मे की वे self-sufficient बने और महिलाओं के लिए safe transportation  के ज्यादा से ज्यादा options मिले.

‘पिंक रिक्शा’ initiative sustainability की दिशा में E-auto का उपयोग करने का भी है. इसे पहले गोवा, लखनऊ और सूरत में भी लॉन्च किया गया था. इससे पहले भी 'Aboli Rickshaw' programme महाराष्ट्र की सरकार ला चुकी है. 

Google image

Image credits- Google Images

Pink Rickshaw का प्लान Deputy Chief Minister और Finance Minister Ajit Pawar को दिखाया गया था. इस प्लान के मुताबिक 20 % सरकार subsidy देगी महिलाओ को ये Pink रिक्शा खरीदने के लिए, और बाकि 10% वे खुद खर्च उठयेंगे बाकि बचा हुआ 70% बैंक लोन (bank loan) की मदद से होगा. 

Women and Child development मंत्री Aditi Tatkare ने 5000 पिंक रिक्शा को प्रोग्राम के पहले साल में शामिल करने का प्रस्ताव रखा है. सरकार इस initiative को महाराष्ट्र के 10 शहरों में लांच करने जा रही है, जैसे- मुंबई, नवी-मुंबई, ठाणे, पनवेल, पुणे, पिम्परी-चिंचिनवाद, छत्रपति संभाजी नगर, नाशिक और नागपुर.

Maharashtra Finance minister E-auto safe transportation