Seoni के सीताफल से बनी SHG की पहचान

MP के Seoni जिले में मिलने वाले सीताफल ने Self Help Group को नई प्रसिद्धि दिलवा दी. Custard Apple का कारोबार कर यह SHG महिलाएं Self Depend हो गईं. सिवनी के मीठे सीताफल की डिमांड लगातार बढ़ रही.

New Update
सीताफल से बनी SHG की पहचान Banner

सिवनी जिले में सीताफल की पैदावार और बेचने के लिए तैयार करती SHG महिलाएं (Image: Ravivar Vichar)

Madhya Pradesh के Self Help Group in Seoni ने natural fruit Custard Apple की बंपर पैदावार का फायदा उठाया. Ajeevika Mission के अधिकारियों ने महिलाओं को ट्रेनिंग देकर इस बिज़नेस में तैयार कर दिया.

Custard Apple ने SHG महिलाओं की ज़िंदगी में घोली मिठास 

Seoni के forest area में लगने वाले  custard apple का बड़ा कारोबार अब Self Help Group की महिलाएं संभाल रहीं. Chhapara block के  खेरमटाकोल (भूतबंधानी) के Mahadev Village Organization (VO) की अध्यक्ष अभिलाषा वर्मा बताती हैं- "हम सभी सदस्यों के पास कोई काम नहीं था.समूह से जुड़ने के बाद सीताफल की पैकिंग और बेचने का काम शुरू किया. इस काम में हमें सालाना लाखों रुपए की कमाई हुई. हम local market के अलावा प्रदेश के कई बड़े शहर और छत्तीसगढ़ में अपना फल भेजते हैं."

C APPLE 0

सिवनी जिले में सीताफल के कारोबार में जुटी SHG की सदस्य  (Image: Ravivar Vichar)

सिवनी का सीताफल बेहद स्वादिष्ट होने से दिल्ली जैसे बड़े शहरों में भी मंगाया जा रहा. छपारा के जंगल इलाके में सीताफल की झाड़ियों की देखभाल भी स्वयं सहायता समूह की महिलाएं ही करती हैं.

Seoni के बरोड़ासिवनी ब्लॉक के मां दुर्गा महिला आजीविका ग्राम संगठन (VO) की अध्यक्ष रामप्यारी मालवी कहती हैं- "सीताफल बेचने के काम से हमारी जिंदगी ही बदल गई.हमारे समूह की कई महिलाओं की आर्थिक स्थिति अच्छी हो गई. मैं इस काम में एक से डेढ़ लाख रुपए सालाना कमा रही." 

13 SHG की 200 से ज्यादा महिलाओं को मिला रोजगार 

Seoni जिले छपारा ब्लॉक में ही 13 स्वयं सहायता समूह Custard Apple के business से जुड़े हैं.

Ajeevika Mission Chhapara के Block Manager (BM) Subhash Sahu बताते हैं- "हमारे ब्लॉक में SHG की महिलाओं की आर्थिक स्थिति सीताफल के व्यापार से बहुत सुधर गई. यहां 200 से अधिक महिलाओं को रोजगार मिला. SHG को मार्केटिंग और पैकेजिंग की ट्रेनिंग करवाई गई. प्रोसेसिंग और ग्रेडिंग के बाद पैकेजिंग किया जाता है." यहां महिलाएं पूरे सीज़न इस काम में जुटीं रहती हैं.

Ajeevika Mission की District Project Manager (DPM) Aarti Chopra ने बताया- "Seoni जिले में Custard Apple (सीताफल) प्राकृतिक होने से बहुत मीठा और स्वादिष्ट है. One District One Product में भी इस फल को ही शामिल किया गया. इस Product की grading और processing के बाद packaging अच्छी होने से दूसरे राज्य भी भेज पा रहे."

सीताफल की रबड़ी का पल्प भी सिवनी का ! 

Continental और Traditional Sweet के बढ़ते trend के साथ आजकल सीताफल की रबड़ी भी बहुत पसंद की जा रही. सिवनी जिले के SHG की महिलाएं सीज़नल यह फल ख़त्म होते ही इन फलों से Pulp Of Custard Apple (गूदा) निकाल कर इसे processing किया जाता है. DPM आरती चोपड़ा आगे बताती हैं- "जिले में ही 2 यूनिट लगाई गई. इससे पल्प को मिनिमम ट्रेम्प्रेचर से ठोस बना कर Preserve कर दिया जाता है. बड़े-बड़े आयोजनों में इसकी डिमांड बढ़ जाती है. जिला पंचायत (ZP) के CEO Panwar Navajeevan Vijay और कलेक्टर(DM) क्षितिज सिंघल (Kshitij Singhal) भी लगातार इस प्रोजेक्ट में ग्राम  संगठनों की सदस्यों से बात कर हौसला बढ़ा रहे."

C AQPPLE 02

सिवनी में लगाई यूनिट में पल्प तैयार करती SHG की महिलाएं  (Image: Ravivar Vichar)

SRLM Bhopal के State Project Manager (Ag) Manish Panwar का कहना है- "हमारे MP में Seoni जिले में SHG की महिलाएं काफी आत्मनिर्भर हो गईं. यह हमारा आदर्श जिला है. यहां की जलवायु अनुकूल होने के कारण सीताफल का स्वाद सबसे लग होता है.हम लगतार काउंसलिंग करते हैं."                                  

Ajeevika Mission Custard Apple Village Organization Traditional Sweet Pulp Of Custard Apple