सिवनी को महका रहा SHG का गेंदा फूल

MP के Seoni को SHG का गेंदा फूल महका रहा.पिछले कुछ सालों में SHG की महिलाओं ने अपने खेतों में फूलों की खेती शुरू की. इस खेती से SHG की सदस्यों के परिवार की स्थिति में आर्थिक सुधार हुआ. ये सदस्य अब अपने दूसरे समूह के सदस्यों को भी जोड़ रहे. 

New Update
Seoni SHG story

सिवनी के पहाड़ी गांव में फूलों की खेती करती SHG महिलाएं

MP के Seoni जिले में Self Help Group की महिलाओं ने अपना पसीना खेतों में बहाकर फूलों से जिले को महका दिया.इन फूलों की खेती से खुद के परिवार भी खुशहाल होने लगे. सिवनी में कई एकड़ ज़मीन पर अब गेंदे के फूलों की खेती हो रही.          

40 एकड़ में 4 टन रोज़ बिक रहा Marigold Flowers

Seoni जिले के छपारा ब्लॉक में Self Help Group की महिलाओं मिला प्रोत्साहन सफल रहा. यहां के पहाड़ी पंचायत और गांव के टोला इलाके में SHG की महिलाओं ने गेंदे के फूलों की खेती शुरू की. देखते ही देखते सीज़न में 40 एकड़ में लगे पौधों से 4 टन फूल रोज़ निकाला जा रहा.

IMG-20240108-WA0016

सिवनी में गेंदे के फूलों की बहार और SHG की महिलाएं  (Image: Ravivar Vichar)



एक समूह से जुड़ी कुछ महिलाओं से शुरू हुई इस खेती में अब 100 से ज्यादा महिलाएं जुड़ गईं. पहाड़ी गांव की दुर्गा स्वयं सहायता समूह की ज्योति गज्जाम बताती है- "हमने शुरू में कुछ एकड़ में ही खेती की. Ajeevika Mission के अधिकारियों की मदद से Flower Seed RAIPUR से मंगवाए. हमारे यहां सीज़न में फूलों से अच्छी कमाई हो रही. " 

 

इसी इलाके में खेती कर रही अंजलि स्वयं सहायता समूह की किरण नायक कहती है- "हमारे खेत में दूसरी फसलों के साथ फूलों के सीज़न में गेंदे की खेती से अच्छी कमाई हुई. मुझे ख़ुशी है हमारा फूल जबलपुर फूलों की मंडी में 40 से 60 रुपए किलो बिक रहा.हमारे परिवार के आर्थिक हालात सुधर गए. सीज़न में 90 से 1 लाख 40 हजार रुपए तक की कमाई यहां महिलाओं को हुई." 

Hybrid Marigold Flowers की बढ़ी मांग 

Seoni जिले के Hybrid Marigold Flowers की लगातार मांग बढ़ रही. Seoni Ajeevika Mission के ABM Subhash Sahu बताते हैं- "पहाड़ी गांव के टोला इलाके में 24 एकड़ से 8 SHG Group की महिलाओं ने merigold flowers की खेती शुरू की. फायदा होने पर सीज़न में यहां अब  40 एकड़ खेत में 15 SHG की महिलाएं फूलों की खेती कर रहीं.यहां से रोज़ निकाले जा रहे फूलों को जबलपुर भेजा जा रहा."

seoni pic flower

Merigold Flowers के फूल तोड़ती हुईं महिलाएं (Image: Ravivar Vichar)

Ajeevika Mission के BM भरत परमार कहते हैं- "पहाड़ी गांव में Marigold Flower Farming से जिले को नई पहचान मिली. इस खेती को और बढ़ावा दिया जाएगा." 

Seoni के ये समूह फूलों का सीज़न खत्म होने के बाद दूसरी  फसलों में धान,गेहूं और सब्जियों की खेती कर कमाई करते हैं.



Ajeevika Mission की District Project Manager (DPM) Aarti Chopra कहती हैं-"जिले छपारा ब्लॉक में SHG की महिलाएं Traditional Farming अपने परिवार के साथ करतीं थीं. कुछ साल पहले Marigold flowers की खेती सफल रही. इसके hybrid seed मंगवाए. अब इसी खेती में 100 से ज्यादा महिलाओं को रोजगार मिल गया. हर बड़े धार्मिक और दूसरे आयोजन में इन फूलों की मांग बढ़ जाती है.इसमें और promote किया जाएगा."

Seoni के कलेक्टर (DM) Kshitij Singhl और CEO जिला पंचायत (ZP) Panwar Navjeevan Vijay भी लगातार समूह की महिलाओं को प्रोत्साहित कर आत्मनिर्भर बनाने के लिए TRAINING दिलवा रहे.   

SHG self help group Seoni Ajeevika Mission Marigold Flowers Marigold Flower Farming