मूंगफली आधारित उत्पाद प्रशिक्षण से SHG महिलाओं को सशक्त कर रहा ICAR

ICAR-(Central Institute of Post-Harvest Engineering and Technology) ने पंजाब के जालंधर जिले के विभिन्न गांवों के 5 Self Help Groups (SHGs) की 38 महिला लाभार्थियों के लिए मूंगफली से दूध और पनीर की processing पर एक दिन के training program का आयोजन किया.

New Update
SHG.png

Image: Ravivar Vichar

आज ग्रामीण महिलाऐं अपनी प्रतिभा और कौशल से अनमोल उपलब्धियां हासिल कर रहीं हैं. उनका यह संघर्ष हमारे देश की उन्नति के लिए एक महत्वपूर्ण राह बना रहा हैं. आज इन महिलाओं के योगदान को समाज भी भली-भांति पहचानने लगा हैं.

SCSP Scheme (Scheduled Caste Sub Plan) के तहत Jalandhar नगर निगम ने SHGs की महिलाओं को मूंगफली उत्पादों को बनाने के लिए training program का आयोजन किया.

यह भी पढ़े: SHGs को मिल रहीं नई पहचान

5 SHGs की महिलाओं के लिए आयोजित किया training प्रोग्राम

ICAR-Central Institute of Post-Harvest Engineering and Technology, नेpunjab के Jalandhar जिले के विभिन्न गांवों के 5 Self Help Groups (SHGs) की 38 महिला लाभार्थियों के लिए मूंगफली से दूध और पनीर की processing पर एक दिन के training program का आयोजन किया.

इस कार्यक्रम के दौरान, Dr. Nachiket Kotwaliwale, जो ICAR-CIPHET, लुधियाना की Director है उन्होंने संस्थान में उपलब्ध सुविधाओं पर प्रकाश डाला. साथ ही इस program में भाग लेने वाली महिलाओं को अपने प्रयासों में इन सुविधाओं का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित किया. Transfer of Technology Division के Dean ने कार्यक्रम के बाद participants को बधाई दी और उनकी उपलब्धियों पर प्रमाण पत्र, पुस्तिकाएं और लाभार्थी वस्तुएं प्रदान की.

यह भी पढ़े: Drone yojana- पंजाब की महिलाओं ने बदले फार्मिंग के ढंग

icar.jpg

Image credits: ICAR.Org 

महिलाओं को स्वतंत्रता और शाक्त बनाने में एक बड़ा कदम 

यह प्रोग्राम महिलाओं की स्वतंत्रता, आत्मविश्वास, और आत्मनिर्भरता की ओर एक महत्वपूर्ण कदम माना गया है. मूंगफली के उत्पादों का उपयोग भारतीय खाने में काफी प्रयोग होता से किया जाता है, लेकिन यहां तक कि यह आयुर्वेदिक औषधियों और उत्पादों के रूप में भी उपयोग किया जा सकता है . 

महिलाओं को इस क्षेत्र में एक नई दिशा मिली, जो उन्हें स्वास्थ्य सेवाओं और आर्थिक आधार प्रदान कर सकती है. इस कार्यक्रम का उद्देश्य महिलाओं की आय में सुधार करने का  प्रयास है . इस program में भाग लेने वाली महिलाओं ने पेड़ों से एकत्र की गई मूंगफली से पनीर, दूध और अन्य पेय पदार्थ बनाने के बारे में सीखा, जिसमें तकनीकों के माध्यम से दूध के  Shelf life को बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित किया गया.

यह कदम इन महिलाओं के लिए एक ज़रूरी पहल साबित हो रहा है. सरकार ने इन महिलाओं के रोजगार के साथ ही पूरे परिवार के स्वास्थ की देखभाल की जिम्मेदारी लेने की भी बात की. इस पहल से ना केवल इन महिलाओं को सशक्त किया जा रहा है बल्कि उनके विकास के लिए एक नया मार्ग भी दिखाया जा रहा है.

 

Punjab Jalandhar raining program SCSP Scheme