आउटलेट्स से मिलेगा राजीविका महिलाओं को नया बाज़ार

महिलाओं के द्वारा बनाए प्रोडक्ट्स को यदि आउटलेट्स मिल जाएं तो ऐसी राजीविका महिलाओं को नया बाज़ार मिल जाएगा.Jaipur दौरे पर आए केंद्र सरकार के अधिकारियों ने यह मंशा जता कर नई उम्मीद जगा दी.

New Update
आउटलेट्स से मिलेगा राजीविका

राजीविका अधिकारी और समूह सदस्य भारत सरकार के अधिकारियों के साथ (Image: Ravivar Vichar )

Rajasthan के दौरे पर आए केंद्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायत विभाग के अधिकारियों ने Rajeevika Self Help Group की महिलाओं द्वारा बनाए जा रहे प्रोडक्ट्स और उनकी यूनिट देखी.जहां उन्होंने राजस्थान शासन के अधिकारियों को महिलाओं  के लिए आउटलेट्स खोलने का सुझाव दिया.  

आत्मनिर्भर महिलाओं ने बताए हाथों के हुनर 

जयपुर के सांगानेर ब्लॉक में राजीविका समूह की महिलाओं ने अधिकारियों को तैयार प्रोडक्ट्स बताए.भारत सरकार के ग्रामीण विकास एवं पंचायत विभाग के Secretary Shailendra Singh और Rajasthan Government के Secretary-Commissioner Ravi Jain ने visit की.

jaipur visit 600

महिलाओं के हाथों बने उत्पाद देखते अधिकारी (Image: Ravivar Vichar )     

अन्नपूर्णा रसोई कॉर्डिनेटर इंदिरा शर्मा ने कहा-"इस रसोई व्यवस्था में रोटेशन पद्धति लागु होगी तो ज्यादा महिलाओं को रोजगार मिल सकेगा.साथ ही इससे होने वाली कमाई का कुछ हिस्सा CLF को भी मिले.इससे रसोई व्यवस्थापन में सुविधा होगी.रसोइयों का भुगतान भी समय पर हो."

अधिकारियों ने रसोई यूनिट की व्यवस्था को देखा.यहां गैलरी बना कर रखे गए प्रोडक्ट्स को भी देखा.इस मौके पर Rajeevika Project Director Ajay Arya भी मौजूद थे.     

सरकारी खाली भवनों में VO और CLF के लगें ऑफिस 

आने वाले दिनों में राजीविका स्वयं सहायता समूह के village organization और Cluster Level Federation के ऑफिस राज्य के कई  मुख्यालयों पर खाली पड़े सरकारी स्कूल और सरकारी भवनों में संचालित हो सकते हैं. 

 Rural Development and Panchayat  के Secretary Shailendra Singh ने कहा-"जहां सरकारी भवन या स्कूल भवन खाली पड़े हों वहां समूह की महिलाओं को ग्राम संगठन और CLF के ऑफिस चलाने के लिए जगह देखी जाए.यदि दिल्ली के सरस मेलों के तरह आउटलेट्स भी खोले जाएं तो राजीविका के प्रोडक्ट्स की बिक्री ज्यादा होगी."

rajivika jaipur visit 600

सैनेटरी पेड यूनिट में काम करती हुईं समूह सदस्य (Image: Ravivar Vichar) 

महिलाओं द्वारा बनाई जा रही फाइलों का सरकारी ऑफिसों में उपयोग की भी बात की.इस मौके पर  Rjeevika के Jaipur District Manager Pushpendra Singh भी मौजूद थे. 

राजस्थान में चल रही गतिविधियों को लेकर Jaipur राजीविका की DPM Anupama Saxena ने बताया-"जयपुर में एक आउटलेट संचालित किया जा रहा.इससे समूह के बनाए प्रोडक्ट्स को बहुत रिस्पॉन्स मिल रहा.यहां Sanitary Pad बनाने के साथ साबुन और झाड़ू भी महिलाएं बना कर बेच रहीं.प्लास्टिक मुक्त करने के लिए कपड़े के थैले भी बनाए जा रहे." 

राजीविका समूह की महिलाओं ने अधिकारियों को कहा यदि आउटलेट्स जगह जगह खुल जाएं तो हमारे प्रोडक्ट्स ज्यादा बिकेंगे. 

          

CLF Sanitary Pad Rajasthan Rajeevika Self Help Group Rural Development and Panchayat