Uttarakhand में अब SHG महिलाएं बनेंगी ईंधन सखी

उत्तराखंड में अब SHG की महिलाओं का नया काम देखने को मिलेगा. SHG की महिलाएं ग्रामीण इलाकों में ईंधन सखी की भूमिका निभाएंगी. मिनी गैस एजेंसी का संचालन ये महिला सदस्य करेंगी.

New Update
Uttrakhand में अब SHG महिलाएं

Image: Ravivar Vichar

SHG members दूर करेंगी Gas Refilling Problem 

Self Help Group in Uttrakhand की सदस्य ग्रामीण इलाकों में Gas Refilling समस्या को दूर करेगी. सरकार ने HP Gas Agency से अनुबंध कर यह निर्णय लिया. सरकार का मानना है कि इस कदम से जहां गांव में परिवारों को गैस सिलेंडर खत्म होने से परेशानी नहीं आएगी,वहीं SHG की महिलाओं को अलग से कमाई होगी. वे आत्मनिर्भर होंगी. ये समूह की महिलाएं Idhan Sakhi कहलाएंगी.

राज्य सरकार ने 4 जिलों में Pilot Project for SHG  के तहत इस योजना को शुरू किया. इस Project को mini gas agency माना जाएगा. इसका पूरा संचालन SHG की महिलाएं ही करेंगी.

4 District की 61 Idhan Sakhi को मिलेगी training 

Rural Development Department of Uttrakhand के Additional Secretary एवं Commissioner आनंद स्वरूप ने बताया- 'SHG की महिलाओं के लिए वरदान साबित होगा. मिनी गैस रिफलिंग एजेंसी का पूरा संचालन  समूह की महिलाएं ही करेंगी. इस Pilot Project में 4 जिले में उत्तरकाशी की 40, टिहरी की 16 और हरिद्वार की पांच महिलाओं सहित कुल 61ईंधन सखी तैयार हो चुकी हैं. इस काम के लिए महिलाओं को ट्रेनिंग दी जाएगी."

इस सुविधा से ग्रामीण इलाकों में समय पर परिवारों को Gas Refilling in Uttrakhand मिल सकेगी. इस काम के लिए SHG समूह कंपनी की ओर से हर Gas Cylinder पर 20 रुपए तक कमीशन मिलेगा. इसके अलावा SHG को बर्नर, चूल्हा, इसकी सर्विस, गैस पाइप, नए कनेक्शन देने, डीबीसी कनेक्शन पर भी कंपनी की ओर से कमीशन दिया जाएगा. खास बात यह है कि गैस कंपनी गांव-गांव में प्रचार-प्रसार करने पर SHG सदस्यों को एक हजार रुपए अलग से मिलेंगे. 

Successful हो रहा SHG सखियों का concept 

Uttrakhand सरकार ने एक नई पहल की. शासन और विभाग ने पहले ही सपष्ट कर दिया कि यदि यह Pilot Project success रहा तो इसे 4 जिलों से बढ़ा कर दूसरे जिलों में भी लागू किया जाएगा. इस समय Self Help Group के सदस्य केवल एक कारोबार नहीं कर रहे, बल्कि अपनी कमाई बढ़ने के लिए दूसरे कारोबार में भी रूचि ले रहे.

SHG की महिलाएं Bank Sakhi in MP,  Pashu Sakhi in MP Health Sakhi, Krishi sakhi  जैसे पदों पर भी सफलता से काम कर रहीं. पूरे देश में bank sakhi के कारण ग्रामीण इलाकों में महिलाओं के खाते और बचत की प्रक्रिया बढ़ी है. ऐसे ही पशु पालन में टीकाकरण और health sector में भी ये सखियां ग्रामीण महिलाओं को जागरूक कर रहीं. 

यदि ईंधन सखी के इस प्रोजेक्ट का फायदा ग्रामीण इलाकों को मिला तो पूरे देश में  भी Idhan Sakhi बनने का मौका मिलना चाहिए. 

यह भी पढ़ें -  https://ravivarvichar.in/nazariya/rural-women-can-help-train-farmers-to-use-soil-health-checking-device          

Self Help Group in Uttrakhand Pilot Project for SHG Idhan Sakhi Gas Refilling in Uttrakhand mini gas agency