नरसिंहपुर में दीदी कैफे पर हो रहा स्वाद का संगम

SHG की महिलाओं ने अब हर जगह रफ़्तार पकड़ ली. नरसिंहपुर में भी दीदी कैफे पर अब स्वाद का संगम हो रहा. स्वाद संगम अब किसी एक जिले नहीं बल्कि MP के लगभग हर जिले में SHG सदस्य ने इसे व्यवसाय बना लिया. आत्मविश्वास से ये SHG कैफे चला रहीं.

author-image
विवेक वर्द्धन श्रीवास्तव
एडिट
New Update
NPUR CAFE BANNER

गाडरवारा में ट्रेडिशनल कैफे लुक लोगों को भा रहा (Image: Ravivar Vichar)

MP के Narsinghpur जिले में स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने एकजुट होकर दीदी कैफे स्वाद संगम कैंटीन शुरू किए . शुरू में ही इन कैफे ने अपनी लोकप्रियता हासिल कर ली. इस तरह के कैफे से 25 से ज्यादा महिलाओं को नया रोजगार मिल गया.

अदरक और मसाला चाय से महक उठी दीदियों की ज़िंदगी 

कई दिनों से नरसिंहपुर कलेक्टोरेट परिसर में अधिकारियों और कर्मचारियों को बढ़िया केंटीन की कमी खल रही थी. Ajeevika Mission ने उसे पूरा कर दिया. एक ही प्रयास में जिला प्रशासन और जिला पंचायत ने यहां सुविधा दे दी.

mission ने योजनान्तर्गत दीदी कैफ़े स्वाद संगम की कमान self help group की महिलाओं को सौंप दी.

narsinghpur के अलावा gadarwada और kareli में भी महिलाओं को मौका मिला.



नरसिंहपुर में Swad Sangam didi cafe चलाने वाली Ekta CLF की नीलवती मुरिया और रेखा मेहरा बताती हैं-"हमने कभी सोचा भी नहीं था कि अदरक और मसाला चाय की महक जैसी हमारी आर्थिक जिंदगी भी बदल जाएगी. हमारी कमाई अच्छे से होने लगी. हम यहां सदस्य काम कर रहे."

NPUR CAFE 02

SHG का दीदी कैफे हो रहा सफल  (Image: Ravivar Vichar)

गाडरवारा और करेली में भी SHG महिलाओं को जगह दी गई. गाडरवारा के जनजागृति CLF की पूजा तिवारी का कहना है-"हमने समूह ज्वाइन करने के पहले कई परेशानी देखी.अब कैफे शुरू किया. SDM ऑफिस परिसर में कर्मचारी और बाहर से आए मेहमान भी हमारे कैफे में ही आते हैं. हम चाय के साथ नाश्ता भी रखते हैं. हम इसे और बढ़ाएंगे."

Traditional Art और Culture Hut cafe बना आकर्षण का केंद्र 

नरसिंहपुर जिले के करेली तहसील परिसर में बने दीदी कैफे में Traditional Art और Culture अंदाज़ में hut को सजाया गया. यह कस्टमर्स के लिए आकर्षण का केंद्र बन गया. यहां Unnati Cluster Level Federation की मीना पटेल कहती है-"हमने दीदी कैफे को आर्ट और कल्चर अंदाज़ में सजाया. बांस मटेरियल से इसे तैयार करवाया.हमारी ग्राहकी अच्छी हो रही."

NPUR CAFE 01

पूर्व कलेक्टर रिजु बाफना भी पहुंची थीं दीदी कैफे स्वाद संगम (Iamge:Ravivar Vichar)

Ajeevika Mission Narsinghpur District Project Manager (DPM) Jwala Karosia कहते हैं-"जिले के कलेक्टर भवन परिसर में जरूरत को देखते हुए पूर्व कलेक्टर DM Riju Bafna ने इसकी पहल की.हमने जिला पंचायत (ZP) के पूर्व CEO Dr.Saurabh Sanjay Sonwane ने हमारे प्रस्ताव पर 25 महिलाओं को Institute of Hotel Management (IHM)  Bhopal ट्रेनिंग के लिए भेजा. वर्तमान CEO ZP Dalip Kumar ने इन महिलाओं को प्रोत्साहित कर नए रोजगार से जोड़ दिया. सभी कैफे में हाइजीन का भी पूरा ध्यान रखा जा रहा."                                                        

SHG self help group CLF Ajeevika Mission IHM conserving traditional art Swad Sangam didi cafe Cluster Level Federation Institute of Hotel Management