भगौरिया की मस्ती और SHG महिलाओं का बढ़ा दबदबा

MP के आदिवासी अंचल में भगौरिया की धूम है.इस मस्ती के बीच महिलाओं का दबदबा बढ़ता दिख रहा.SHG से जुड़ी महिलाएं सिर्फ मेला घूमने ही नहीं आ रहीं,बल्कि खुद की कमाई भी कर रहीं. इन महिलाओं ने अपने हुनर से तैयार सामान को बिक्री के लिए रखा.

author-image
विवेक वर्द्धन श्रीवास्तव
एडिट
New Update
jhabu para seema shg 12

झाबुआ जिले में भगोरिया त्यौहार में शॉप लगा कर Costumes बेचती हुई SHG की सीमा (Image: Ravivar Vichar)

MP के Tribal Culture का खास Bhagoria Festival का आकर्षण दिनोंदिन बढ़ता जा रहा. self help group की महिलाओं ने भी इस हाट बाज़ार bhagoria mele में अपनी नई पहचान बनाई. होली से पहले इस ख़ास त्यौहार में समूह की महिलाओं ने और भूमिका भी निभाने की जिम्मेदारी उठा ली.      

Traditional Costumes और लगाए SHG ने food स्टॉल्स

MP के Jhabua, Aalirajpur, Dhar,Badwani और khargone जैसे tribal districts में self help group की महिलाओं का आत्मविश्वास दिखने लगा. समूह से जुड़ने के बाद इन महिलाओं ने आदिवासी समुदाय का सबसे महत्वपूर्ण त्यौहार भगोरिया में भी स्टॉल्स सजा रहीं.

झाबुआ जिले के पारा ब्लॉक अंतर्गत गांव में मां चामुंडा स्वयं सहायता समूह की सीमा पांचाल बताती है-"पहले हम इन भगोरिया हाट बाज़ारों में परिवार के साथ घूमने आते थे. इस बार मैं traditional costume आदिवासी पौशाक बना कर बेच रहे.हमारी अलग से कमाई हुई.इस बार हमें पहले भी सिलाई का काम मिला. यह ड्रेस ख़ास तरह से तैयार होती है."

jhabua para mamta shg shop

SHG की ममता फ़ूड आइटम्स सेल करते हुए (Image: Ravivar Vichar)

झाबुआ जिले के ही राजा स्वयं सहायता समूह की राजा बाई कहती हैं-"हम इस बार आदिवासी हाट बाज़ार की पहली पसंद ख़ास तरह के फ़ूड आइटम्स रख रहे.इसमें गुड़ की जलेबी और मिर्ची के खास तरह से तैयार भजिये बनाए.यह सबसे ज्यादा बिके.हमारी कमाई के साथ हमने मेले का परिवार सहित आनंद भी लिया." 

आर्थिक मजबूती से दुगना हुआ त्यौहार का उत्साह 

Holi के पहले tribal community में मनाया जाने वाला Bhagoria महिलाओं की बढ़ती आर्थिक मजबूती के साथ त्यौहार का मज़ा दुगना हो गया.

Jhabua के Para Block Manager (BM) Asha Sharma कहती हैं-"Ajeevika Mission का यह प्रयोग khardubadi village में सफल रहा. यह सभी समूह की महिलाएं आदिवासी समुदाय से ही हैं. उनकी मेहनत को ख़ास मेले में ज्यादा से ज्यादा लोग देख पा रहे. महिलाओं ने खुद से सिले कपड़े और फ़ूड आइटम्स रखे.यह मेले में सैकड़ों लोगों को पसंद आए.इनकी मेले में अलग से कमाई हुई."

jhabua bhagoria 600

झाबुआ ज़िले में भगोरिया में खरीदी करती युवतियां (Image: Ravivar Vichar ) 

यहां बनाए गए SHG और महिलाओं ने कई तरह के रोजगार शुरू किए.इसमें organic farming भी प्रमुख है.   

जिले के प्रभारी DPM और एडिशनल CEO Dinesh Varma ने भी इस मिशन को लेकर समूह की महिलाओं को प्रमोट किया.

IAS DM JHABUA NEHA MEENA

IAS DM Neha Meena

Jhabua District कलेक्टर IAS DM Neha Meena कहती हैं-"मुझे ख़ुशी है कि Tribal District में महिलाएं बहुत मेहनती हैं.कल्चर के साथ आत्मनिर्भर बनने के लिए उनमें उत्साह है. इसी का परिणाम है भगोरिया हाट बाज़ार में भी SHG की महिलाओं ने अपने स्टॉल्स लगाए.हम और प्रोत्साहित कर रहे."         

यह पहला मौका नहीं हैं.झाबुआ ज़िले की पहचान  Jhabua Gudiya और  kadaknath hactchery  में देश-दुनिया में जगह बना चुका है.  

SHG self help group Ajeevika Mission Organic Farming Tribal Community Tribal Culture Bhagoria Festival Jhabua Gudiya kadaknath hactchery