घरेलु महिला ने दिखाई हिम्मत SHG से जोड़ी 300 महिलाएं

MP के BALAGHAT जिले के LANJI Block की घरेलु महिला ने हिम्मत दिखाई. घर से निकल कर खुद SHG से जुड़ी. देखते ही देखते गांव की 300 से ज्यादा महिलाएं जोड़ कर आत्मनिर्भर बनाने में मदद की. यह सब अब जैविक खेती कर रहीं. 

New Update
घरेलु महिला ने दिखाई हिम्मत SHG

मीरा टिकेश्वर और सदस्य जैविक समूह के प्रमाणपत्र दिखाते हुए (Image: Ravivar Vichar)

MP में Balaghat जिले के lanji तहसील के छोटे से गांव बड़गांव की घरेलु महिला मीरा टिकेश्वर ने हिम्मत से पति का साथ दिया. आर्थिक मजबूत करने के लिए  Ajeevika Mission की मदद से Self Help Group  से जुड़ी. Organic Farming के बल पर आत्मनिर्भर बन गई.

Organic Group बना कर बदला गांव का माहौल 

लांजी ब्लॉक के बड़गांव की रहने वाली मीरा टिकेश्वर ने परेशानी देखी लेकिन घबराई नहीं. मीरा बताती है- "मैं घरेलु महिला थी.पति विजय ही खेती में जाते.जो कमाई होती उसी से घर चलाना मजबूरी थी. साल 2018 में मैं SHG से जुड़ी.वर्षा स्वयं सहायता समूह बनाया. मुझे ट्रेनिंग दी.हमारी 2 एकड़ ज़मीन में जैविक खेती शुरू की. खुद ने ORGANIC FERTILIZAR तैयार किया. हमारे खेत में गेहूं और धान के साथ मिर्च उत्पादन बढ़ गया. इसी के साथ मैंने गांव में तीन ORGANIC GROUP बनाए. 45 से ज्यादा महिलाएं जुड़ीं. सभी के परिवार जैविक खेती कर रहे."

balaghat lanji meera banner

  (खेत में जैविक खेती करती हुई मीरा बाई ) Image: Ravivar Vichar

शुरुआत में ग्राम पंचायत ने मीरा के काम और मेहनत को देख नल-जल कर वसूली, सफाई के काम में जोड़ लिया.

वर्षा समूह की मुन्नी पांचे, पांचू बाई ठाकरे और इमला बाई भोयर जैसी कई महिलाएं बकरी पालन कर अपनी आजीविका चलाने के काबिल हो गई.

CCL Loan की मदद से लगाई फोटोकॉपी और किराना दुकान 

Organic Farming से स्थिति सुधरती चली गई. मीरा ने अपने बड़गांव में 31 Self  Help Group बनाए. इन ग्रुप के जरिए 300 महिलाओं को जोड़ा. मीरा ने आगे बताया- "मैंने समूह संख्या बढ़ने की वजह से Village Organization (VO) बनाया. CLF में मुझे कोषाध्यक्ष बनाया.  CIF से 8 लाख का LOAN मिलने से मैंने पहले किराना दुकान डाली.

CCL के जरिए बैंक से भी लोन लिया. पहले एक लाख और फिर 2 लाख 75 हजार रुपए का लोन भी मिल गया. मैंने काम और कमाई बढ़ाने के लिए फोटोकॉपी की मशीन भी दुकान में रख ली. FPO संगठन बना कर मैंने 15 सदस्य अलग से बनाए.एक लाख के लोन से खेत में बोरिंग करवाया. 50 हजार का धान का खरीद कर कारोबार शुरू किया."

balaghat meera mat

मनरेगा के तहत तालाब निर्माण में समूह सदस्य काम करते हुए  Image: Ravivar Vichar

Balghat District Project Manager (DPM) Mukesh Bisen बताते है-"बड़गांव में मीरा और उनके समूह ने आदर्श स्थापित किया.उनकी वजह से गांव में अधिकांश किसान दीदी और उनके परिवार organic farming कर रहे. इस इलाके में समूह को promote किया जा रहा."

State Rural Livelihood Mission (SRLM) Bhopal के State Project Manager (SPM) Manish Panwar का कहना है-"बालाघाट कैसे नक्सल प्रभावित इलाके में SHG से जुड़कर महिलाएं निर्भया  CLF जैसे समबना रहीं. मीरा इस जिले के लिए ख़ास मिसाल है.इस समूह से दूसरों को भी प्रेरणा मिलेगी."

SHG FPO self help group CLF Ajeevika Mission Organic Farming State Rural Livelihood Mission Village Organization ORGANIC FERTILIZAR ORGANIC GROUP CIF